Breaking News

विदेश

संरा महासभा में भाग लेने न्यूयॉर्क पहुंचीं सुषमा,पाक को बेनकाब करेगा भारत

26, Sep, 2016, Monday 04:51:13 AM

न्यूयॉर्क ! संयुक्त राष्ट्र महासभा के 71वें सत्र को संबोधित करने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज यहां पहुंच चुकी हैं और सभी की नजरें तथा कान महासभा में सोमवार को होने जा रहे उनके संबोधन पर टिके

प्रादेशिकी

अर्थजगत

GST परिषद के अतिरिक्त सचिव नियुक्त हुए अरुण गोयल​

24, Sep, 2016, Saturday 05:06:19 PM

नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की आगामी बैठकों में कई अहम फैसले लिए जाने हैं। इसे देखते हुए सरकार ने मंगलवार को अखिल भारतीय अप्रत्यक्ष कर उगाही की इस शीर्ष संस्था के अतिरिक्त सचिव के पद पर अरुण गोयल की नियुक्ति की है।



पदक चाहिए या थाली

26, Sep, 2016, Monday 10:32:51 PM
Author Image

किसी भी लोककल्याणकारी सरकार की प्राथमिकता क्या होना चाहिए- एक गरीब, लावारिस मरीज को इलाज और साफ-सुथरी थाली में भोजन मुहैया कराना या फिर ओलंपिक में पदक हासिल करना?

फार्मासिस्टों को मिले अधिकार

26, Sep, 2016, Monday 12:31:44 AM
Author Image

फार्मासिस्ट लंबे समय से यह मांग करते आ रहे हैं कि उन्हें सामान्य बीमारियों के उपचार के लिए मरीजों को दवाएं लिखने का अधिकार दिया

मौन की शक्ति दिखलाते मराठा

23, Sep, 2016, Friday 10:52:59 PM
Author Image

पिछले एक दशक में भारत में कई छोटे-बड़े राजनीतिक, सामाजिक, जातीय आंदोलन हुए। कोई भ्रष्टाचार के विरूद्ध आंदोलनरत हुआ, कोई आरक्षण की मांग पर, तो कोई जातीय अस्मिता की

बैंकों की सुरक्षा पर सवाल

23, Sep, 2016, Friday 09:39:29 PM
Author Image

पड़ोसी राज्य ओडिशा के संबलपुर में यूनियन बैंक में हुई डकैती की घटना के बाद डकैतों के छत्तीसगढ़ की सीमा में घुसने की आशंकाओं के बीच जब पुलिस और सारे बैंक अलर्ट पर थे, कोरबा

पूर्ण बराबरी, पूर्ण सुरक्षा चाहिए

22, Sep, 2016, Thursday 10:43:47 PM
Author Image

दिन दहाड़े, आवाजाही भरी सडक़ के बीच एक वहशी इंसान हाथ में कैैंची लिए निहत्थी लडक़ी पर ताबड़तोड़ वार करता है, उसे तड़पा-तड़पा कर मारता है, उस पर लातें बरसाता है और तय करता है कि

बयाना लिया- रजिस्ट्री कब होगी

26, Sep, 2016, Monday 10:39:27 PM
Posted by:प्रभाकर चौबे

प्रभाकर चौबे : बड़े आदमी ने गरीब को उसकी जमीन का बयाना तो दे दिया लेकिन रजिस्ट्री कराने के नाम पर सोंठ बना बैठा है। हां हूं तक नहीं कर रहा। गरीब आदमी उसे

विश्वसनीय दोस्त नहीं हो सकता अमेरिका

26, Sep, 2016, Monday 10:35:15 PM
Posted by:अन्य

वेनेजुएला में हुए गुटनिरपेक्ष देशों के शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शिरकत नहीं की। विदेशी यात्राओं के लिए अपनी अलग पहचान बना चुके

‘बलूचों की निर्वासित सरकार’ पर सोचिए

24, Sep, 2016, Saturday 10:33:21 PM
Posted by:पुष्परंजन

पुष्परंजन : दोदिन बाद 26 सितंबर को भारतीय विदेशमंत्री सुषमा स्वराज संयुक्त राष्ट्र महासभा में क्या कहेंगी, इसे जानने के लिए भारत से कहीं अधिक पाकिस्ता

घटता निर्यात और बढ़ती बेरोजगारी

24, Sep, 2016, Saturday 10:25:11 PM
Posted by:अन्य

जावेद अनीस : पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी ने हर साल 2.5 करोड़ नौकरी देने का वादा किया था, लेकिन अभी तक ऐसा हो नहीं पाया है और नौकरियां बढऩे के

अरुणाचल प्रदेश की भजनमंडली

24, Sep, 2016, Saturday 10:21:01 PM
Posted by:अन्य

कल्याणी शंकर : हरियाणा में भजनलाल 1979 में जनता पार्टी के मुख्यमंत्री थे। 1980 में केन्द्र की सरकार बदल गई और कांग्रेस फिर सत्ता में आ गई।

ई-पेपर

Rahifal Image

पहुना बनके आही पितर

Sunday , Sep 25,2016, 11:45:49 PM

संगवारी हो हमर वेद पुरान के कहे अनुसार एक बरस के बेरा तक मनखे हर नानकुन जीव के बरन धरे रइके अपन मया-पीरा मनखे के घर कुरिया कोती बुलत रइथे जेला हमन अपन आंखी ले नइ देखे सकन।

सुहाग की रक्षा का पर्व है तीज (हरितालिका तीज पर विशेष)

Thursday , Aug 28,2014, 06:02:07 AM

भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया के दिन अखंड सौभाग्य की कामना के लिए भारतीय स्त्रियां हरतालिका तीज का व्रत रखती हैं। यह देशभर में विशेषकर उत्तर-पूर्वी हिस्सों में उत्साह के साथ रखा जाता है। हरितालिका तीज की पहचान महिलाओं के 16 श्रृंगार से होती है।

मेरे लेखन के स्वर्णिम क्षण

Sunday , Sep 25,2016, 03:44:29 AM

अवसर न मिलने की शिकायत अवसरवादी लोग करते हैं। मुझे कदम-कदम पर अवसर मिले, बांहें फैलाए। मुझे धीरे-धीरे यह भी पता चला कि किसी भी लेखक की सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा किन्हीं विशेष अवसरों पर उरूज पर होती है।

कंगना को फैशन क्वीन मानती हैं तमन्ना भाटिया

Monday , Sep 26,2016, 05:21:03 AM

मुंबई ! बॉलीवुड अभिनेत्री तमन्ना भाटिया, कंगना रनौत को फैशन क्वीन मानती है। हाल में तमन्ना की फिल्म ‘तूतक तूतक तूतिया’ के शीर्षक गीत को जारी करने के दौरान कंगना ने कहा था कि वह तमन्ना की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं।

31अक्टूबर पंजाब चुनाव में डाल सकती है अ
24, Sep, 2016, Saturday 12:00:00 AM
नई दिल्ली | इंदिरा गांधी की हत्या के बाद भड़के सिख दंगों पर आधारित फिल्म '31 अक्टूबर' में अभिनेत्री सोहा अली खान एक सिख महिला का किरदार निभा रही हैं। वह इन दंगों में अपने परिवार की जिंदगी बचाने की जद्दोजहद करती दिखाई देंगी।
r

ब्लॉग्स

बस्सी साहब ! खूब बाँट रहे हो कन्हैया की अपील

Posted By Loksangharsha at

17, Feb, 2016, Wednesday 08:34:49 AM

आज पटियाला हाउस में दिल्ली पुलिस कमिश्नर बी एस बस्सी ने कन्हैया, उसके वकीलों व जेएनयू के टीचर्स की सुरक्षा की गारंटी ली थी लेकिन दिल्ली पुलिस कमिश्नर की

प्रधानमंत्री मोदी के लिए परीक्षा का समय..

Posted By अरुण कान्त शुक्ला at

08, Jan, 2016, Friday 05:33:52 AM

प्रधानमंत्री मोदी के लिए परीक्षा का समय.. पठानकोट एयर बेस पर हुए फिदायीन हमले ने भारत-पाकिस्तान के संबंधों पर लगातार चलने वाली बहस को और गर्म तथा तेज कर द

वीडियो कान्फ्रेंसिग के युग में विदेश यात्रा

Posted By POKHRAJ at

03, Apr, 2015, Friday 05:46:10 AM

जब हम विचारों और भावनाओं का आदान-प्रदान इंटरनेट की सुविधा वीडियो कान्फ्रेंसिग के प्रयोग द्वारा कर सकते है। तब हमारे सम्माननीय प्रधानमंत्री विदेशी दौर

गोविंद पंसारे,गरिमा,मानवाधिकारों व तर्कवाद के योद्धा

Posted By Loksangharsha at

27, Feb, 2015, Friday 09:12:34 AM

गत 20 फरवरी को,जब कामरेड गोविंद पंसारे की मृत्यु की दुखद खबर आई, तो मुझे ऐसा लगा मानो एक बड़ा स्तंभ ढह गया हो.एक ऐसा स्तंभ जो महाराष्ट्र के सामाजिक आंदोलनों

हिंदी व्यंग्य --अब मीडिया बड़ा ही फ़ास्ट हो गया है

Posted By Jag mohan thaken at

28, Dec, 2014, Sunday 03:33:00 AM

 व्यंग्य लेख --  अब मीडिया बड़ा ही फ़ास्ट हो गया है . छोटे से छोटी घटना पर ऐसी प्रस्तुति देता है कि जिस व्यक्ति के बारे में समाचार दिखाया जा रहा है , उसे भ

गा रही कविता युगों से मुग्ध हो

गा रही कविता युगों से मुग्ध हो,
मधुर गीतों का न पर, अवसान है।
चाँदनी की शेष क्यों होगी सुधा,
फूल की रुकती न जब मुस्कान है?

चन्द्रिका किस रूपसी की है हँसी?
दूब यह किसकी अनन्त दुकूल है?
किस परी के प्रेम की मधु कल्पना
व्योम में नक्षत्र, वन में फूल है?

नत-नयन कर में कुसुम-जयमाल ले,
भाल में कौमार्य की बेंदी दिये,
क्षितिज पर आकर खड़ी होती उषा
नित्य किस सौभाग्यशाली के लिए?

धान की पी चन्द्रधौत हरीतिमा
आज है उन्मादिनी कविता-परी,
दौड़ती तितली बनी वह फूल पर,
लोटती भू पर जहाँ दूर्वा हरी ।
रामधारी सिंह दिनकर

क्या राज्यपाल का पद समाप्त कर देना चाहिए?

हाँ
नहीं
कह नहीं सकते